February 28, 2024
Wednesday, February 28, 2024
More
    19 C
    Patna
    16.1 C
    Ranchi
    15 C
    Lucknow
    spot_img

    Corona Virus के नए स्ट्रेन से दहशत, कई देशों ने ब्रिटेन पर लगाया Travel Ban

    spot_img

    Published On :

    कोहराम लाइव डेस्क: अचानक इंग्लैंड में कोरोना वायरस (Corona Virus) के नए प्रकार के प्रकाश में आने से एक बार फिर तनाव का आलम है। ब्रिटेन में कोरोना के नए प्रकार (New Strain) ने वायरस के खिलाफ लड़ाई में एक नया मोड़ ला दिया है। इसकी वजह से ब्रिटेन (Britain Lockdown) में एक बार फिर कोरोना मरीजों की तादाद में तेजी आ गई है। इसे देखते हुए दुनिया के कई देशों ने ब्रिटेन से आने और वहां जाने पर प्रतिबंध लगा दिया है। यहीं नहीं ब्रिटेन के यूरोपीय पड़ोसियों ने भी खतरे को देखते हुए यूके के यात्रियों के लिए अपने दरवाजों को बंद करना शुरू कर दिया है।

    इसे भी पढ़ें :चाकूबाजी में घायल युवक की मौत, Overtake करने में हुई थी…

    मिलकर करना होगा नियंत्रित : बोरिस जॉनसन

    ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कहा है कि नए स्ट्रेन से संक्रमण के मामले अचानक बढ़ गए हैं। उनकी सरकार ने लंदन और आस-पास के इलाकों में कोरोना प्रतिबंधों को और कड़ा कर दिया है। इसके साथ ही क्रिसमस पर प्रस्तावित पांच दिन की विशेष छूट का फैसला वापस ले लिया गया है। अभी यह नहीं कहा जा सकता कि इस प्रकार पर वैक्सीन कितनी कारगर होगी, लेकिन हमें इसे मिलकर नियंत्रित करना होगा।

    फ्रांस ने लगाया 48 घंटे का प्रतिबंध

    फ्रांस ने भी यूनाइटेड किंगडम से आने वाले सभी लोगों पर रविवार रात से 48 घंटे के लिए रोक लगा दी है। इसमें सड़क, वायु, समुद्र या रेल से यात्रा करने वाले लोग शामिल हैं। आयरलैंड ने कहा है कि वह अपने पड़ोसी देश से उड़ानों पर जल्द प्रतिबंध लगाएगा। बेल्जियम ने कहा कि वह ब्रिटेन से आने वाली लोकप्रिय यूरोस्टार सेवा सहित उड़ानों और ट्रेनों को बंद करेगा।

    इटली और जर्मनी ने भी लगाया बैन

    जर्मन सरकार ने यूनाइटेड किंगडम से सभी उड़ानों को आधी रात से निलंबित करने का फैसला किया है। स्वास्थ्य मंत्री जेन्स स्पैन ने कहा कि वायरस का नया स्ट्रेन जर्मनी में अभी तक पहचाना नहीं गया है, लेकिन निश्चित रूप से हम ब्रिटेन से आ रही रिपोर्टों को बहुत गंभीरता से ले रहे हैं। इटली के स्वास्थ्य मंत्री रॉबर्टो स्पेरान्ज़ा ने कहा है कि लंदन में खोजा गया कोरोना वायरस का नया प्रकार चिंता का विषय है। इटली ने भी ब्रिटेन से आने वाली उड़ानों पर प्रतिबंध लगा दिया है।

    इसे भी पढ़ें :किसान आंदोलन के समर्थन में निकाली Rally, सभा की

     बैन लगाने पर अन्‍य कई देश कर रहे विचार

    नीदरलैंड सरकार ने रविवार से यूनाइटेड किंगडम से यात्रियों को ले जाने वाली उड़ानों पर प्रतिबंध लगा दिया और यह प्रतिबंध 1 जनवरी तक लागू रहेगा। ऑस्ट्रिया भी ब्रिटेन से उड़ानों पर प्रतिबंध लगाने की योजना बना रहा है। स्वीडन ने कहा कि वह यूनाइटेड किंगडम से प्रवेश पर प्रतिबंध लगाने का निर्णय पर काम कर रहा है। रोमानिया, लिथुआनिया, लातविया, एस्टोनिया, बुल्गारिया और चेक गणराज्य ने भी यूनाइटेड किंगडम से उड़ान पर रोक की घोषणा की है।

    ब्रिटेन से भारत आनेवाली फ्लाइट्स पर 31 दिसंबर तक रोक

    ब्रिटेन में कोरोनावायरस का नया वैरिएंट मिलने के बाद बनी स्थिति को देखते हुए केंद्र सरकार ने ब्रिटेन से आने वाली फ्लाइट्स पर रोक लगाने का फैसला लिया है। यह बैन 22 दिसंबर रात 11.59 बजे 31 दिसंबर रात 11.59 बजे तक रहेगा। जो लोग कल तक भारत आएंगे, उनका एयरपोर्ट पर ही RT-PCR टेस्ट किया जाएगा।

    पहले वाले वायरस से 70% ज्यादा संक्रमण फैलाने वाला

    ब्रिटेन में कोरोना वायरस का बदला हुआ रूप पाया गया है। इसे VUI-202012/01 नाम दिया गया है। आशंका है कि यह पहले वाले वायरस से 70% ज्यादा संक्रमण फैलाने वाला है। इससे भारत में भी दहशत का माहौल है। उधर, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा है कि ब्रिटेन में मिले कोरोनावायरस के नए स्ट्रेन से घबराने की जरूरत नहीं है। सरकार इसे लेकर अलर्ट है।

    इसे भी पढ़ें :आतंक का पर्याय और PLFI का मोस्ट वांटेड जिदन गुड़िया मारा गया

    50% लोगों ने कहा था- फ्लाइट्स बंद हो

    वायरस के बदले हुए रूप की दहशत के बीच दिल्ली में सोमवार को सोशल मीडिया कम्युनिटी LocalCircles ने 7091 लोगों पर सर्वे किया। इनमें से 50% लोगों ने कहा कि ब्रिटेन, दक्षिण अफ्रीका समेत कोरोनावायरस के नए रूप से प्रभावित देशों से आने-जाने वाली फ्लाइट्स तुरंत बंद कर देनी चाहिए।

    सऊदी ने बॉर्डर भी सील किया

    सऊदी अरब सरकार ने इंटरनेशनल फ्लाइट्स पर एक हफ्ते की रोक लगा दी है। सऊदी ने अपनी सीमाएं भी एक हफ्ते के लिए सील कर दी हैं। सरकार ने कहा है कि जो लोग यूरोपीय देशों से सऊदी आए हैं, उन्हें दो हफ्ते के लिए सेल्फ आइसोलेशन में रहना होगा। जो लोग बीते तीन महीने में यूरोप या नए कोरोना स्ट्रेन वाले क्षेत्रों से आए हैं, उन्हें कोरोना टेस्ट कराना होगा। इस बीच, तुर्की ने भी ब्रिटेन, डेनमार्क, साउथ अफ्रीका और नीदरलैंड्स से आने वाली फ्लाइट्स पर अस्थायी रोक लगा दी है।

    भारत में विपक्ष ने भी फ्लाइट बंद करने की मांग की थी

    राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी ब्रिटेन से आने-जाने वाले विमान रोकने की केंद्र से अपील की थी। इस संबंध में उन्होंने सोशल मीडिया पर एक के बाद एक कई पोस्ट किए। उधर, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कोरोनावायरस के नए रूप को सुपरस्प्रेडर बताया।

    इसे भी पढ़ें :अरेस्टिंग क्यों होगी, मिस्टेक ऑफ फैक्ट है ना : थानेदार

    - Advertisement -
    spot_img
    spot_img
    spot_img

    Related articles