spot_img
Monday, November 28, 2022
spot_img
spot_img
Monday, November 28, 2022
spot_img
spot_img

Related articles

spot_img
spot_img

Dhanbad में झामुमो नेता और उनकी पत्नी की निर्मम हत्या

spot_img
spot_img
- Advertisement -

धनबाद : धनबाद में झारखंड मुक्ति मोर्चा के बड़े नेता और उनकी पत्नी की निर्मम हत्या से शहर में सनसनी है। 10 अक्टूबर की देर रात झामुमो के Dhanbad महानगर उपाध्यक्ष शंकर रवानी और उनकी पत्नी बालिका देवी की अपराधियों ने बेरहमी से मौत के घाट उतार दिया। लोगों को घटना की जानकारी रविवार 11 अक्टूबर की सुबह में लगी। सूचना के बाद पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। पति-पत्नी दोनों का शव उनके घर के आंगन में पड़ा हुआ है।

- Advertisement -

इसे भी पढ़ें : सोशल मीडिया पर Mahendra Singh Dhoni की बेटी पर अभद्र टिप्‍पणी, बढ़ाई गई फार्म हाउस की सुरक्षा

दो खोखा-चाकू बरामद किया गया

hatyaa

घटनास्थल से पुलिस ने दो खोखा और चाकू भी बरामद किया है। हत्या भी चाकू से मारकर किया गया है। घर की हालत देखकर ऐसा लग रहा है कि दोनों दंपति ने अपराधियों के साथ मुकाबला भी किया। अपराधियों ने उन्हें दौड़ा-दौड़ा कर मार होगा। दो फायरिंग भी की गई है। सिंदरी डीएसपी अजीत कुमार सिन्हा, सुदामडीह थाना प्रभारी, भोरा ओपी प्रभारी, जोड़ापोखर इंस्पेक्टर मामले की जांच में जुट गए हैं।

इसे भी पढ़ें : दो अलग-अलग मुठभेड़ में 4 आतंकी ढेर, इलाके में सर्च ऑपरेशन जारी

पुरानी रंजिश पर भी हो रही जांच

17 अगस्त 2017 को  रेनबो ग्रुप के चेयरमैन धीरेन रवानी की हत्या हुई थी। हत्या का आरोप शंकर रवानी के बड़े पुत्र कुणाल रवानी पर लगा था। घटना के समय ही कुणाल रवानी की भी पीट-पीटकर लोगों ने हत्या कर दी थी। व्यवसाय और संपत्ति विवाद को लेकर शंकर रवानी और धीरेन रवानी में विवाद था। शंकर और धीरेन चचेरे भाई थे। शंकर रवानी उक्त घटना के समय जेल में बंद थे। दोनों परिवारों ने एक दूसरे पर आरोप लगाया था। पुलिस भी पुरानी रंजिश से ही जोड़कर इस हत्याकांड को देख रही है।

इसे भी पढ़ें : World Mental Health Day पर लोगों को संवेदनशील और जागरूक करें

- Advertisement -
spot_img
spot_img
spot_img

Published On :

spot_img
spot_img

Recent articles

spot_img

Don't Miss

spot_img