‘अंकल रहम करो’, सुनते ही किडनैपरों ने उठाया घातक कदम, देखें वीडियो…

Published:

Giridih (Chandan) : दो दिन पहले दिन के उजाले में अगवा कर लिये गये 9 साल के लव कुमार प्रभाकर उर्फ राजा की लाश आज उसके गांव के ही एक कुएं से मिली। एक बोरे में बंद कर कुएं में फेंकी गई राजा की लाश किडनैपरों की निशानदेही पर मिली। शुरुआती जांच में पुलिस ने इसे किडनैपिंग फॉर रैनसम माना है। फिरौती नहीं मिलने और राजा द्वारा किडनैपर को पहचान लेने के कारण उसकी नृशंस हत्‍या कर दी गई। मासूम राजा बार-बार किडनैपरों से यही बोल रहा था कि… “अंकल रहम करो, मुझे मत मारो, जीने दो। दादा और पापा को बोल आपको पैसे दिलवा दूंगा। मेरे चुक्‍का में भी पैसा है, वो भी दे दूंगा।” पर बेरहम किडनैपरों को रहम तक नहीं आई। यह राज खोला गिरफ्तार 5 किडनैपरों में से एक ने।

राजा अपने दादा बद्री प्रसाद शर्मा के साथ रहता था। वह बोड़ो रॉयल पब्लिक स्‍कूल में तीसरी क्‍लास में पढ़ता था। उसके दादा का घर गिरिडीह के पचंबा में है। मकर संक्रांति के मौके पर वह अपनी मम्मी-पापा के घर गया था। उसके पापा अपने पैतृक आवास गिरिडीह के जमुआ के चचघरा गांव में रहते हैं। दादा एक स्‍कूल में पढ़ाते थे, इस कारण पैतृक आवास से अलग रहते थे। कुछ दिन पहले ही दादा रिटायर किये हैं। आशंका है कि रिटायरमेंट में मिले पैसे गटकने के इरादे से राजा को किडनैप किया गया। पकड़े जाने के डर से किडनैपरों ने मासूम राजा को मौत के घाट उतार दिया।
यहां याद दिला दें कि 13 जनवरी को राजा अपनी दो बहनों के साथ घर के पास ही अपने खलिहान में गया था। बहनें घर लौट आई थी, पर राजा खलिहान में ही रूक गया था। उसने बहनों से कहा था कि थोड़ी देर में घर आ जायेगा। तय समय पर जब राजा अपने घर नहीं लौटा तो उसके घरवाले उसे खोजना शुरू किये। उसे इधर-उधर बहुत खोजा। कुएं-तालाब में झग्‍गड़ तक डाला गया, पर कुछ पता नहीं चला। दूसरे दिन यानी 14 जनवरी को राजा के पिता के मोबाइल पर एक मैसेज आया। मैसेज पढ़ घर में हाय-तौबा मच गई। मैसेज में लिखा था कि… लव को इधर-उधर खोजना बंद करो, खर्चा बंद करो, थाना मत जाना। लव उनके कब्‍जे में है। राजा अब इस दुनिया में जिंदा नहीं रहेगा। उसकी लाश तक के आखिरी दर्शन नहीं कर पाओगे।

राजा के पापा की माली हालत ऐसी नहीं कि वह फिरौती दे पाते। उनकी एक इलेक्‍ट्रॉनिक की छोटी सी दुकान है। सहसा गांववालों को भी यह यकीन नहीं है कि फिरौती नहीं मिलने के कारण राजा मारा गया। वहीं गिरिडीह पुलिस भी पूरे मामले में चुप्‍पी साधे हुए है। गिरिडीह पुलिस ने सिर्फ इतना खुलासा किया कि इस सनसनीखेज कांड में शामिल 5 अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। ये सभी जमुई से पकड़े गये। पुलिस किडनैपरों तक उनके मोबाइल के लोकेशन के आधार पर पहुंची। मासूम राजा की बेरहमी से हत्‍या के बाद से गांव के लोगों का गुस्‍सा उबाल पर है। हर कोई राजा के हत्‍यारों को फांसी पर लटकते हुए देखना चाहता है। राजा की मां और बहनों का रो-रोकर बुरा हाल है। सबसे खराब हालत उसके दादा और पापा का है।

Read More :BREAKING: Virat ने छोड़ी TEST TEAM की कप्तानी, ट्वीट कर कहा…

Read More :गिरफ्तार माओवादी ने मुंह खोला और पुलिस ने क्‍या कर डाला, देखें

Read More :UP Election: इन-इन सीटों पर RLD के ये दिग्गज लड़ेंगे चुनाव

Read More :बाईपास के किनारे खेला रहे थे जुआ, पुलिस पहुंची और हो गया…

Read More :पिकअप वैन चोरी करने वालों का क्‍या हुआ, देखें

Read More :झारखंड में फिर बढ़ी Corona की पाबंदियां, जानिये इस बार की गाइडलाइन्स

Read More :BPSC ने निकाली नए साल की पहली वैकेंसी, इन पदों पर होगी बंपर बहाली… देखें

Read More :बच्‍चों के मामूली विवाद में क्‍या हो गया, देखें…

Read More :मुंबई से आई थी खाली हाथ, लौटते वक्त गोद में थी नन्ही बच्ची… धरा गई… देखें कैसे

Read More :बिंदास जैनब से खुल गया 62 लाख के पीछे का छुपा राज, देखें वीडियो

Read More :26 जनवरी से पहले मिला 3 किलो का IED बम, NSG ने किया डिफ्यूज…देखें वीडियो

Read More : भारतीय रेलवे में बिना परीक्षा के मिलेंगी नौकरियां, जल्द करें आवेदन

Read More : IED ब्लास्ट में SSB का एक जावन घायल

Related articles

Recent articles

Follow us

Don't Miss