spot_img
Monday, November 28, 2022
spot_img
spot_img
Monday, November 28, 2022
spot_img
spot_img

Related articles

spot_img
spot_img

लैंड म्यूटेशन बिल रद्द करने के लिए भाजपा विधायकों ने दिया धरना

spot_img
spot_img
- Advertisement -

रांची । कोरोना काल और लॉकडाउन के बीच तीन दिनों के लिए झारखंड विधानसभा का मानसून सत्र आयोजित किया गया है। मानसून सत्र के दूसरे दिन सोमवार 21 सितंबर को विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधायकों ने सदन की कार्यवाही शुरू होने से पहले झारखंड लैंड म्यूटेशन बिल को रद्द करने सहित अन्य मांगों को लेकर सदन के बाहर धरना दिया।

- Advertisement -

इसे भी पढें : दो दिनों की छुट्टी के बाद शुरू होगा मानसून सत्र, मुख्यमंत्री प्रश्नकाल स्थगित

हाथों में तख्ती लेकर विरोध किया

सदन के बाहर भाजपा विधायक अमर कुमार बाउरी, रणधीर सिंह, भानु प्रताप शाही, मनीष जायसवाल, नवीन जायसवाल समेत अन्य विधायकों ने अपने हाथों में तख्ती लेकर विरोध दर्ज किया। झारखंड लैंड म्यूटेशन बिल रद्द करो, झारखंड में जमीन लूटनेवालों के लिए कानून बनाना बंद करो जैसे नारे भी लगाए।

भूखल घासी के परिजनों को राहत देने की मांग

bjp vidhan sabha1इसके साथ ही सदन के बाहर धरना देकर भाजपा विधायकों ने बोकारो के कसमार के मृतक भूखल घासी और उसके परिजनों की मौत के दोषी अधिकारियों पर कार्रवाई की मांग भी की। साथ ही भूखल घासी के परिजनों को 25 लाख रुपए की राहत राशि, एक बेटे को सरकारी नौकरी और परिजनों को सुरक्षा देने की मांग रखी गई। इसके अलावा मधुपुर के पत्रकार के साथ दुर्व्यवहार करने वाले इंस्पेक्टर के खिलाफ भी उचित कार्रवाई की मांग भी रखी गई। हंगामे और विरोध के बाद स्पीकर ने दिन के दो बजे तक के लिए सदन की कार्यवाही स्थगित कर दी।

इसे भी पढें : मानसून सत्र में पारित नहीं हुआ सरना धर्म कोड, तो नहीं चलने देंगे शीतकालीन सत्र : बंधन तिग्‍गा

- Advertisement -
spot_img
spot_img
spot_img

Published On :

spot_img
spot_img

Recent articles

spot_img

Don't Miss

spot_img