29 C
Ranchi
Saturday, December 4, 2021

Latest Posts

हुकुमत की चाह में मचाया था कोहराम, सुनें क्‍या बोले सिटी एसपी…(Video)

53 घंटे के सफर के बाद टाटा पुलिस पहुंची गैंगस्‍टर सुधीर के बिल तक

Ranchi (Pawan Thakur) : जमशेदपुर में कोहराम मचा देने वाला गैंगस्‍टर सुधीर दुबे अपना वर्चस्‍व टाटा में जमाना चाहता था। यही वजह है कि वह अपराध जगत के बेताज बादशाह अखिलेश सिंह गिरोह से पंगा ले लिया। बीते साल अप्रैल माह में गैंगवार हुआ। लॉकडाउन में हुए इस गैंगवार ने जमशेदपुर पुलिस को हिला कर रख दिया। दोनों ओर से अत्‍याधुनिक हथियारों का खुलकर इस्‍तेमाल हुआ था। गोली लगने से लगभग आधा दर्जन लोग जख्‍मी हुए थे। गैंगस्‍टर सुधीर पहले डॉन अखिलेश सिंह का ही खास शागिर्द हुआ करता था। करीबी और दोस्‍ती ऐसी थी कि सुधीर डॉन अखिलेश की ताकत और कमजोरी दोनों जान गया था। कभी-कभी सुधीर अपने मन का कर लिया करता था। इसके लिए कई बार उसे लताड़ा भी गया था।

दोस्‍ती धीरे-धीरे दुश्‍मनी में बदल गई। सुधीर दुबे ने डॉन अखिलेश का साथ छोड़ अपना अलग गिरोह बना लिया। जमशेदपुर अपराध जगत में अपने नाम का सिक्‍का जमाने के इरादे से सुधीर ने ताबड़तोड़ कई वारदातों को अंजाम दिया। देखते ही देखते जमशेदपुर में उसके नाम 21 संगीन मामले दर्ज हो गए। 2 मामले में वह सजायाफ्ता मुजरिम है। डॉन अखिलेश के जेल में रहने के कारण सुधीर अपनी हुकुमत चलाने की फिराक में जुटा था। गैंगवार के बाद टाटा पुलिस की खूब फजीहत हुई। वहीं मोस्‍ट वांटेड बन गए सुधीर दुबे की गिरफ्तारी को लेकर खूब हाय-तौबा मची। नतीजा लगातार 53 घंटे का सफर कर जमशेदपुर पुलिस 5 हजार किमी दूर छुपे सुधीर को धर दबोचा। सुधीर को पकड़ने में इंस्‍पेक्‍टर अंजनी कुमार की सराहनीय भूमिका रही। मिली एक गुप्‍त सूचना पर पुलिस पंजाब पहुंची थी। वहीं सुधीर अपना नाम बदल कर रह‍ रहा था। सुनें क्‍या बोले जमशेदपुर के सिटी एसपी सुभाष चंद्र जाट

Read more:उमर 21, गुनाह 22… देखें वीडियो

Read more:गिफ्ट में लिफ्ट पाकर पत्‍नी है गदगद

Latest Posts

Don't Miss

Photo News