spot_img
Monday, November 28, 2022
spot_img
spot_img
Monday, November 28, 2022
spot_img
spot_img

Related articles

spot_img
spot_img

सनकी दामाद ने खत्म कर दिया पूरा का पूरा ससुराल… देखें क्यों

spot_img
spot_img
- Advertisement -

Kohramlive : किसी बात को लेकर पति-पत्नी में मन मुटाव हो गया। इस वजह से पत्नी अपने दोनों बच्चों के साथ मायके आ गयी। इस बात से पति को खूब गुस्सा आ गया। बीते कल पति अपने ससुराल आया। वहां भी दोनों पति-पत्नी में कुछ कहा सुनी हुई। देर रात खाने-पीने के बाद पति ने सोते समय घर के बाहर ताला लगा दिया। इसके बाद पेट्रोल छिड़क कर आग लगा दी। जिससे उसकी पत्नी, दो बच्चों और सास-ससुर की मौत हो गई। दिल को दहला देने वाला यह मामला जालंधर के बीठला गांव से सामने आया है।

- Advertisement -

घटना को लेकर जो प्रथम दृष्ट्या बातें सामने आयी है उसके अनुसार बेवा परमजीत कौर की दूसरी शादी कुलदीप सिंह से हुई थी। परमजीत की पहली शादी 8 साल पहले हुई थी। उसके इससे उसे दो बच्चे गुलमोहर और अर्शदीप थे। कुछ समय पहले उसके पति की मौत हो गयी। तब से परमजीत अपने दोनों बच्चों के साथ अपने मायके आ गयी। उसके मायके वालों की माली हालत ठीक नहीं थी। वह लोग मजदूरी कर अपना पेट पालते थे। बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए परमजीत के पिता ने एक साल पहले उसकी दुबारा शादी खुरसैदपुर के कुलदीप सिंह उर्फ कल्लू से करा दी। शादी के कुछ दिन तक सब कुछ ठीक-ठाक चल रहा था। लेकिन कुलदीप परमजीत के दोनों बच्चों को अपनाना नहीं चाहता था। वह अक्सर इस बात को लेकर उससे झगड़ा भी किया करता था। वह सिर्फ परमजीत के साथ रहना चाहता था। लेकिन परम अपने बच्चों को छोड़ना नहीं चाहती थी। इसी बात को लेकर अक्सर कुलदीप परमजीत के साथ मारपीट करता था। इन सब से थक हार परमजीत दोनों बच्चों के साथ अपने मायके आ गयी। उसका मायका जालंधर के बीठला गांव के मेहतपुर कस्बा में है। कुलदीप परमजीत को वापस लाना चाहता था। इसके लिए वह अपने ससुराल गया।

वहां उसने परमजीत को घर वापस चलने को कहा। लेकिन परम अपने बच्चों को छोड़ कर जाना चाहती थी। इस बात लेकर दोनों में फिर कहा सुनी हुई। कुलदीप नशे में धुत था। जब पूरा परिवार सोया हुआ था तभी सनकी दामाद ने बाहर से कुंडी बंद कर पूरे घर पर पेट्रोल छिड़क माचिस मार दी। सोये अवस्था में ही परमजीत का पूरा परिवार जिंदा जल गया।

घटना को लेकर एसपी सरबजीत सिंह बाहिया ने बताया कि आरोपी कुलदीप सिंह ने अपने साथियों के साथ मिलकर तेल की टंकी से आग लगा दी और बाहर से कुंडी लगा कर भाग गया। उसके खिलाफ हमें कई सबूत मिले हैं। कुलदीप और परमजीत की दूसरी शादी थी और परमजीत उसके साथ नहीं रहना चाहती थी, जबकि कुलदीप उसको लेकर जाना चाहता था। मरने वालों की पहचान पत्नी परमजीत कौर, बेटा गुरमोहल, बेटी अर्शदीप कौर, सास जंगीद्रो बाई और ससुर सुरजन सिंह के रूप में की गयी है। हत्या का आरोपी दामाद फरार है। जिले में सभी जगह नाकेबंदी कर दी गई है। आरोपी को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

इसे भी पढ़ें : पीएम किसान योजना की 12वीं किस्त जारी, खाता में नहीं आई रकम तो इस नंबर पर तुरंत लगाएं फोन

इसे भी पढ़ें :मंदिर परिसर में भयानक कांड… देखें

इसे भी पढ़ें :लहूलुहान लोगों की चित्कार से दहल उठा दनुआ घाटी… देखें क्यों

इसे भी पढ़ें :स्टूडेंट्स में हो ये बातें, तो कदम चूमेगी कामयाबी : DIG शम्श तबरेज

इसे भी पढ़ें :क्रूरता की हद, किसी कीमत पर माफी नहीं : बन्ना गुप्ता।। बेतरह झुलसी छात्रा का होगा मुफ़्त में इलाज

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img
spot_img
spot_img

Published On :

spot_img
spot_img

Recent articles

spot_img

Don't Miss

spot_img