spot_img
Thursday, August 18, 2022
spot_img
Thursday, August 18, 2022
spot_img
spot_img

Related articles

बॉलीवुड में अपने कदम जमा रहे गढ़वा के साकेत

- Advertisement -

गढ़वा : छोटे शहरों के युवाओं को बॉलीवुड में काम मिलना टेढ़ी खीर के समान है। उनका रुपहले परदे पर नजर आना आसान नहीं होता। बॉलीवुड में बिना किसी गॉडफादर के चांस मिलना बहुत मुश्किल होता है। इसके लिए प्रतिभा के साथ लगन और किस्मत का मेल होना जरूरी है। बहुत कम युवा कलाकारों को ही ऐसी सफलता हासिल होती है। गढ़वा के साकेत सौरभ भी उन चंद एक्टर्स में शामिल हो गए हैं, जो छोटे शहर से होने के बाद भी बॉलीवुड में अपनी प्रतिभा के दम पर पांव जमा रहे हैं।

पहली फिल्म 02अक्टूबर को रिलीज हुई है

गढ़वा साकेतसाकेत सौरभ की पहली फिल्म जी प्लेक्स पर रिलीज हुई खाली पीली है, जो बीते दो अक्टूबर को रिलीज हो चुकी है। फिल्म में हीरो इशांक खट्टर हैं। फिल्म में उन्होंने खलनायक के सहायक की भूमिका निभाई है। उनके निर्देशक ने उनके काम की भरपूर सराहना भी की है। वे एक वेबसीरीज दूल्हा वांटेड में भी नजर आने वाले हैं। इसके अलावा कई और प्रोजेक्ट पर बात चल रही है। उनका काम देखकर उन्हें कई नए प्रस्ताव मिलने शुरू हो गए हैं।

साधारण परिवार से आते हैं साकेत

- Advertisement -

1992 में जन्मे साकेत सौरभ साधारण परिवार से ताल्लुक रखते हैं। उनके पिता निजी स्कूल में शिक्षक हैं। उनकी माता का निधन हो चुका है। गढ़वा से हाईस्कूल तक की पढ़ाई की। इसके बाद भागलपुर से बीएससी (भौतिकी) की डिग्री ली। शुरू से ही मॉडलिंग, एक्टिंग और ड्रामा के प्रति उनका जुड़ाव रहा। स्कूल के दिनों में भी वे नाटक में भाग लिया करते थे। कॉलेज की पढ़ाई के बाद वे दिल्ली आ गए।

इसे भी पढ़ें : 7 अक्टूबर को होगी रिलीज “तेरी आंखो में” वीडियो

इसके बाद थिएटर से जुड़ गये। 2012 में अस्मिता थिएटर ग्रुप ज्वाइन किया। थिएटर में अभिनय सीखने के छह महीने बाद स्टेज पर आकर गंभीर थिएटर करना शुरू कर दिया। कोर्ट मार्शल, तू अबी याई चोहई, तमाशा, चा-चा मंगलसेन, शिक्षक,  तू आदमी या चूहा…जैसे नाटकों में काम किया और अपनी प्रतिमा का परिचय दिया। महिलाओं पर चल रहे अत्याचार के लिए अत्याचारों, दस्तक, वृद्धाश्रम,  चुनाव,  रक्तदान और कई अन्य विषयों पर आधारित विभिन्न नुक्कड़ नाटकों में काम किया है।

फिल्मों से जुड़ाव के कारण मुंबई गए

अभिनय की बारीकियां सीखने के बाद वे रुपहले परदे पर रंग जमाने और अनी किस्मत आजमाने के लिए मुंबई पहुंच गये। उन्होंने एक वेबसीरीज दूल्हा वांटेड के लिए ऑडिशन दिया और एक भूमिका के लिए चुना गया। दूल्हा वांटेड के लिए ही उन्होंने पहली बार कैमरे का सामना किया और वह इसमें पूरी तरह सफल रहे।

अक्षय कुमार-टॉम हैंक्स हैं पसंदीदा अभिनेता

साकेत की पहली प्रेरणा उनकी दिवंगत मां हैं। अक्षय कुमार उनके पसंदीदा अभिनेता हैं। उनके अलावा डैनी डेंजोंग्पा, सर लॉरेंस ओलिवियर,  टॉम हैंक्स, डैनियल डे लेवी उनके फेवरिट हैं। वास्तविक जीवन में उनके हीरो हैं चाचा डॉ विजय कान्त मिश्रा, जिनका मार्गदर्शन उन्हें हमेशा मिलता रहता है। साकेत कहते हैं कि पिता को फिल्मी दुनिया के बारे में कुछ नहीं मालूम है, फिर भी वे मेरे फैसले के साथ हैं। वे कहते हैं कि बॉलीवुड में उनके कदम पड़ चुके हैं और अब पांव धीरे-धीरे जमने भी लगे हैं। मुझे विश्वास है कि सफल हीरो बनकर गढ़वा का नाम रोशन करूंगा।

इसे भी पढ़ें : पोको ने लॉन्च किया नया स्मार्टफोन, जानें इसके फीचर्स और कीमत

- Advertisement -
spot_img
spot_img
spot_img
spot_img

Published On :

Recent articles

Don't Miss

spot_img