spot_img
Thursday, October 6, 2022
spot_img
spot_img
Thursday, October 6, 2022
spot_img
spot_img

Related articles

spot_img
spot_img

IPL इतिहास में पहली बार 10 विकेट से हारी चेन्‍नई, पोलार्ड का रिकॉर्ड

spot_img
- Advertisement -

कोहराम लाइव डेस्‍क : इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) 2020 में 23 अक्टूबर को मुंबई इंडियंस ने चेन्नई सुपरकिंग्स को 10 विकेट से हराया। आईपीएल के अब तक के इतिहास में चेन्नई सुपरकिंग्स की सबसे खराब प्रदर्शन है। पहली बार चेन्‍नई की टीम 10 विकेट से हारी है। चेन्‍न्‍ई की टीम IPL में अब तक 11 सीजन में हिस्सा लिया है, लेकिन इतनी शर्मनाक हार पहली बार झेली है।

- Advertisement -

इसे भी पढ़ें : गया में गरजे PM-Modi, कहा- बिहार में अब लालटेन की जरूरत खत्‍म

कीरोन पोलार्ड का रिकॉर्ड- कप्‍तानी में लगातार टीम की 15वीं जीत

इस मैच में मुंबई इंडियंस के कीरोन पोलार्ड ने भी इस मैच में अपनी कप्तानी का एक शानदार रिकॉर्ड बनाया है। पोलार्ड ने इस साल अब तक 17 टी20 मैचों में टीम की कमान संभाली है। इसमें उन्होंने 15 में अपनी टीम को जीत दिलाई है, जबकि एक में हार का सामना करना पड़ा है और एक मैच बेनतीजा रहा था। चेन्नई सुपरकिंग्स के खिलाफ 10 विकेट से जीत टी-20 में उनकी बतौर कप्तान लगातार 15वीं जीत है। यह आईपीएल में किसी एक टीम की लगातार जीत के रिकॉर्ड से भी ज्यादा है। IPL में सबसे ज्यादा लगातार जीत हासिल करने का रिकॉर्ड कोलकाता नाइटराइडर्स के नाम है। उसने 7 मई 2014 से 2 अक्टूबर 2014 तक लगातार 14 जीत हासिल की थीं।

इसे भी पढ़ें : पूर्व कप्‍तान Kapil Dev को आया हार्ट अटैक, दिल्‍ली में हुई एंजियोप्‍लास्‍टी

IPL में 9वें विकेट के लिए सैम करन और इमरान ताहिर ने की सबसे बड़ी साझेदारी

मुंबई के खिलाफ मैच में चेन्नई ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 9 विकेट पर 114 रन बनाए। एक समय चेन्नई का स्कोर 14.5 ओवर में 8 विकेट पर 71 रन था। तब लग रहा था कि चेन्नई 100 रन के भीतर ही ऑलआउट हो जाएगी, लेकिन ऐसे समय सैम करन और इमरान ताहिर ने 9वें विकेट के लिए 43 रन की साझेदारी की और टीम के स्कोर को 100 के पार पहुंचाया।

यह IPL में 9वें विकेट के लिए सबसे बड़ी साझेदारी है। सातवें नंबर पर बल्लेबाजी करने आए सैम करन ने 4 चौके और 2 छक्के की मदद से 47 गेंद में 52 रन बनाए। वह अपनी टीम के हाइएस्ट स्कोरर भी रहे। उन्हें ट्रेंट बोल्ट ने बोल्ड किया। वह चेन्नई की पारी की आखिरी गेंद पर पवेलियन लौटे। इमरान ताहिर 10 गेंद में 13 नाबाद रहे।

इसे भी पढ़ें : धोनी की तरह बल्लेबाजी करना चाहते हैं डेविड मिलर

मुंबई ने की शानदार बल्‍लेबाजी

115 रनों के लक्ष्‍य का पीछा करने उतरी मुंबई की टीम ने शानदार बल्‍लेबाजी करते हुये 12.2 ओवर में ही 116 रन बनाकर मैच जीत लिया। सलामी बल्लेबाज इशान किशन ने जबरदस्त बल्लेबाजी की। उन्होंने चेन्नई के सभी गेंदबाजों की धुनाई की। ईशान ने मात्र 37 गेंदों में नाबाद रहते हुए 68 रन बनाए। इस दौरान उन्होंने छह चौके और पांच छक्के लगाए।

क्विंटन डिकॉक ने भी अपना शानदार फॉर्म जारी रखा। उन्होंने फिर से तूफानी बल्लेबाजी की और तेजी से रन बनाए। डिकॉक ने 37 गेंदों में 46 रनों की नाबाद पारी खेली। इस विकेटकीपर बल्लेबाज ने ईशान के साथ मिलकर पहले विकेट लिए 116 रन की मैच जिताऊ अटूट साझेदारी की।

- Advertisement -
spot_img
spot_img
spot_img
spot_img

Published On :

spot_img
spot_img

Recent articles

spot_img

Don't Miss

spot_img