spot_img
Sunday, August 14, 2022
spot_img
Sunday, August 14, 2022
spot_img
spot_img

Related articles

पुलिस की वर्दी में आए अपराधियों ने पिता को पीटा, नाबालिग बेटी को किया अगवा

- Advertisement -

देवघर : देवघर जिले के मधुपुर अनुमंडल के पाथरौल थाना अंतर्गत पथरा गांव में गुरुवार की देर रात पुलिस की वर्दी में आये अपराधियों ने घर पर धावा बोलकर एक 14 वर्षीय नाबालिग को अगवा कर लिया। इस दौरान अपराधियों ने नाबालिग के पिता राजेंद्र दास को भी मारकर घायल कर दिया। इस दौरान अपराधियों ने घर में लूटपाट भी की। अपराधी घर में रखे टीवी, चांदी की ज्‍वेलरी, एक मोबाइल भी लूटकर ले गए। घटना के बाद राजेंद्र दास ने ग्रामीणों को घटना की सूचना दी। जिसके बाद ग्रामीणों की मदद से रात को 100 डायल कर घटना की जानकारी पुलिस को दी गई। सूचना मिलने के करीब डेढ़ घंटे बाद पाथरोल पुलिस गांव पहुंची, मगर तब तक अपराधी नाबालिग को लेकर वहां जा चुके थे।

Read More : ड्रग्‍स कनेक्‍शन मामला : बेस्‍ट फ्रेंड ने ही रिया को ठहराया कसूरवार

- Advertisement -

पीड़ित राजेंद्र दास ने बताया कि तकरीबन 12 बजे आधा दर्जन की संख्‍या में हथियारबंद अपराधी उनके घर में घुसे। जिसमें से दो अपराधी खाकी वर्दी में पिस्टल से लैस थे। उन्‍होंने बताया कि पुलिस का पूरा पहनावा नहीं था। कमर में बेल्ट नहीं था, दो नकाबपोश थे, बाकी अपराधी सिविल ड्रेस में थे। अपराधी उनके बेटे सावन कुमार को खोज रहे थे। बेटा घर में नहीं मिला तो अपराधियों ने राजेंद्र दास के साथ मारपीट शुरू कर दी और कहने लगा साइबर अपराध करके जो पैसा कमाए हो वह निकालो। जाते वक्‍त अपराधी घर में रखे टीवी, एक मोबाइल और चांदी की ज्‍वेलरी लूट लिया। जाते वक्‍त अपराधी राजेंद्र दास की दोनों बेटियों को लेकर जाने लगे। मगर छोटी बेटी को अपराधियों ने छोड़ दिया और बड़ी बेटी को लेकर बोलेरो से फरार हो गये। घटना के बाद हो-हल्‍ला सुनकर ग्रामीण जमा हुए, जिसके बाद घटना की जानकारी पुलिस को दी गई। घटना के अगले दिन सुबह एसडीपीओ वशिष्ठ नारायण सिंह, अंचल पुलिस निरीक्षक सुनील टोपनो, पाथरोल थाना प्रभारी असीम कमल टोपनो पुलिस बल के गांव गए और पीड़ित परिवार राजेंद्र दास से मिले और घटना की जानकारी ली। पुलिस ने जल्‍द ही उनकी बेटी को सकुशल बरामद करने का आश्‍वासन दिया।

Read More :  दीपिका से पूछताछ करेगी एनसीबी, पुलिस की एक टीम रहेगी तैनात

20 लाख की मांगी फिरौती

घटना वाली रात को ही अपराधियों ने लूट के मोबाइल से उनके रिश्तेदार के यहां फोन करके 20 लाख रुपये फिरौती की मांग की। वहीं शुक्रवार की सु‍बह उसी मोबाइल से अपराधियों ने दुबारा फोन कर बेटी को लौटाने के एवज में 5 लाख रुपये की फिरौती मांगी.

Read More : इंडिया में अपना पहला ऑनलाइन स्टोर लॉन्च करेगी एप्पल

बीड़ी बनाकर परिवार चलाता है पीड़ित

अपहृत छात्रा कल्होड़ गांव के स्कूल में सातवीं कक्षा की छात्रा है। उसके पिता बीड़ी मजदूर हैं। बीड़ी बनाकर अपने परिवार का भरण पोषण करते हैं। अपराधियों द्वारा बेटी का अपहरण किए जाने से मां-पिता और भाई का रो-रोकर बुरा हाल है। घटना के दिन छात्रा का भाई सावन दास घर में नहीं था। वह अपने मामा के घर मधुपुर भेड़वा मोहल्ला गया हुआ था। घटना की जानकारी मिलने के बाद वह शुक्रवार सुबह अपने घर पहुंचा। घटना के बाद से पीड़ित परिवार में भय का माहौल है।

Read More : तेरे-मेरे बीच में…अब नहीं रहे गायक एसपी बाला

- Advertisement -
spot_img
spot_img
spot_img
spot_img

Published On :

Recent articles

Don't Miss

spot_img