spot_img
Wednesday, February 1, 2023
spot_img
spot_img
1 February 2023
spot_img

Related articles

spot_img
spot_img

Barefoot Surgeon : जहां डिग्री नहीं स्किल्स रखती है मायने

spot_img
spot_img
- Advertisement -

कोहराम लाइव डेस्क : Barefoot Surgeon, जहां डिग्री नहीं स्किल्स रखती है मायने। Barefoot Surgeon शायद यह शब्द आपके लिए बिल्कुल नया हो, पर ऐसा एक देश है जहां डिग्री नहीं स्किल्स बेस पर मिलता है काम।

अनपढ़ महिला ममितू, बनी एक एक्सपर्ट Barefoot Surgeon

- Advertisement -

ऑब्स्टेट्रिक फिस्टुला ऐसी बीमारी जिसमें योनी और मलाशय के बीच छोटे-छोटे छेद हो जाते हैं। अनियंत्रित रूप से मल-मूत्र का रिसाव होता रहता है। अफ्रीकी देश इथियोपिया के पहाड़ों में रहने वाली ममितू गाशे भी इस बीमारी की शिकार थी। इस बीमारी के इलाज के लिए ममितू राजधानी अदीस अबाबा आई। यहां महान आस्ट्रेलियाई डॉक्टर कैथरीन हैमलिन ने उनका इलाज किया। ममितू का फिस्टुला इतना ज्यादा था कि 10 ऑपरेशन के बावजूद वो पूरी तरह ठीक नहीं हो पाईं। ममितू अब डॉक्टर कैथरीन की अच्छी दोस्त बन गई थी। डॉ. कैथरीन और उनके पति ने औरतों के लिए इथियोपिया में फिस्टुला हॉस्पिटल खोला।

इसे भी पढ़ें :Corona Vaccine जून 2021 तक मिल सकता है : Brazil

डॉ. कैथरीन ऑपरेशन थियेटर में ममितू को लेकर भी जाने लगी। उनकी लगन और ललक देख कैथरीन ने उनको इलाज करना सिखाना शुरू किया। कई बार कैथरीन ने हाथ पकड़ कर ऑपरेट करना भी सिखाया। इसी अभ्यास से ममितू इथियोपिया में फिस्टुला की टॉप सर्जन बनीं। अपने जैसी बीमार औरतों को बचाने के संकल्प ने अनपढ़ ममितू गाशे को ‘फ्यूचर ऑफ अफ्रीकन मेडिसिन’ बना दिया।

इसे भी पढ़ें :Bharat के साथ LAC पर तनाव नहीं होने पर बौखलाया चीन

ममितू को 1989 में लंदन के रॉयल कॉलेज ऑफ सर्जन ने सर्जरी के लिए गोल्ड मेडल देकर सम्मानित किया। दूसरी ओर बीबीसी ने 2018 के प्रतिष्ठित 100 वूमेन की लिस्ट में ममितू को 32वें स्थान पर रखा। मरीजों की जरूरत को देखकर 73 की उम्र में भी वो ऑपरेशन थियेटर में मौजूद रहती हैं।

इसे भी पढ़ें :Turkey और Greece में भूकंप ने मचाई तबाही, 20 इमारतें धराशायी

Barefoot Surgeon: बिना किसी विशेष पढ़ाई के हुनर से बदल रहे तस्वीर

‘Barefoot Surgeon’ Community के सदस्य बिना किसी फॉर्मल ट्रेनिंग के ऑपरेशन करते हैं। वो एक एरिया के विशेषज्ञ होते हैं, जो नेचुरल स्किल और देख-देख कर इलाज करना सीखे होते हैं। International Medical Community से भी इनको मान्यता मिली हुई है।

इसे भी पढ़ें :Zinc Rich Foods के सेवन से करें इम्युनिटी सिस्टम को मजबूत

इसे भी पढ़ें :Vitamin D की सही मात्रा शरीर को रखता है तंदरुस्त

- Advertisement -
spot_img
spot_img
spot_img

Published On :

spot_img

Recent articles

spot_img

Don't Miss

spot_img