spot_img
Sunday, August 14, 2022
spot_img
Sunday, August 14, 2022
spot_img
spot_img

Related articles

Snakebite : नहीं हुआ इलाज, ओझा-गुणी के फेर में तीन बच्चियों की मौत

- Advertisement -

सिमडेगा : Snakebite की घटी दुखद घटना। सांप के काटने और उसका समय पर इलाज नहीं होने व ओझा-गुणी के फेर में तीन बच्चियां मर गईं। इनमें दो सगी बहन थी। यह हुआ है सिमडेगा जिले ठेठईटांगर की तराबोगा पंचायत के कंदाबेड़ा गांव में। तीनों बच्चियां रात को घर में जमीन पर चटाई बिछाकर सोई हुई थीं।

रात के लगभग नौ बजे एक जहरीले सांप ने तीनों को डंस लिया। सांप के काटने के बाद बच्चियां जोर-जोर से रोने लगीं। उनके रोने की आवाज सुनकर घर के लोग उनके पास आए। बच्चियों ने कहा कि उन्हें कुछ काट लिया है। इसके बाद सभी अचेत हो गईं।

- Advertisement -

इसे भी पढ़ें : IPL : पहली बार एक मैच में दो-दो सुपर ओवर, पंजाब ने मुंबई को दी मात

108 और 104 नंबर पर नहीं लगा फोन

तब घर के लोग ढिबरी से ढूंढ़ने लगे, तब एक सांप को छेद से बाहर जाते हुए देखा। इसके बाद तीनों को गोद में उठाकर घरवाले गोड़ीडुबा गांव पहुंचे। वहां इलाज कराने अस्पताल ले जाने के लिए वाहन खोजने लगे। गांव के लोगों ने 108 और 104 नंबर डायल भी किया, पर फोन नहीं लगा। थक हार कर घरवाले बच्चियों को एक ओझा गुणी करने वाले के पास ले गए। ओझा-गुणी रातभर कर तंत्र-मंत्र करता रहा, मगर सुबह तक तीनों बच्चियां नहीं उठीं।

इसे भी पढ़ें : Accident : पांच साल पहले डैम में डूबा था भाई, आज…

शव को देने से किया इनकार

सुबह में पुलिस को घटना की जानकारी मिली। पुलिस गांव पहुंची। पुलिस ने तीनों बच्ची को अस्पताल में भर्ती कराने की अपील की। इसके बाद तीनों बच्ची को रेफरल अस्पताल लाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। इसके बाद भी घरवाले नहीं माने और पुलिस को पोस्टमार्टम के लिए शव नहीं दिया। उनका कहना है कि बच्चियां जिंदा है और उन्हें लेकर ओडिशा चले गए।  इधर एक साथ सर्पदंश Snakebite से तीन बच्चियों की मौत के बाद गांव में मातम का माहौल है।

- Advertisement -
spot_img
spot_img
spot_img
spot_img

Published On :

Recent articles

Don't Miss

spot_img