spot_img
Saturday, January 28, 2023
spot_img
spot_img
28 January 2023
spot_img

Related articles

spot_img
spot_img

Tips : जीवन में 14 बुराइयों को जल्द छोड़ दें, आइए जानें

spot_img
spot_img
- Advertisement -

कोहराम लाइव डेस्क : Tips : जीवन में 14 बुराइयों को जल्द छोड़ देना चाहिए। अगर हम इन बुराइयों का त्याग कर दें, तो फिर सुख ही सुख। ये 14 बुराई या अवगुण हैं वाम मार्गी यानी दुनिया से उलटा चलने वाला, कामी, कंजूस, अत्यंत मूर्ख, अति दरिद्र, बदनाम, बहुत बूढ़ा, नित्य रोगी, हमेशा क्रोध में रहने वाला, भगवान से विमुख, वेद और संतों का विरोधी, अपना ही पोषण करने वाला, निंदा करने वाला और पाप कर्म करना। क्योंकि इन अपनाने पर सबकुछ बर्बाद हो जाता है। इसलिए जीवन के इस Tips जरूर अपनाएं।

अंगद ने भी रावण को दी थी सीख

- Advertisement -

रचित श्रीरामचरित मानस के लंका कांड में श्रीराम अपनी वानर सेना के साथ लंका पहुंच गए थे। उस समय श्रीराम ने अंगद को दूत बनाकर रावण के दरबार में भेजा था। दरबार में रावण और अंगद के बीच संवाद होता है। इस संवाद में अंगद ने रावण को 14 ऐसे अवगुण बताए हैं, जिन्हें छोड़ देना चाहिए, वरना सबकुछ बर्बाद हो जाता है।

इसे भी पढ़ें : Unlock : 8 नवंबर से अंतरराज्यीय बसें चलेंगी, जिम-बार भी खुल जाएंगे

जिन लोगों में 14 बुराइयां होती हैं वे मृत के समान

इस प्रसंग में श्रीराम ने अंगद को अपना दूत बनाकर रावण के दरबार में भेजा था। जैसे ही अंगद ने रावण के नगर में प्रवेश किया, उसकी भेंट रावण के एक पुत्र से हुई। दोनों की बीच लड़ाई हुई, जिसमें अंगद विजयी हो गया। अंगद जब रावण के दरबार में पहुंचा तो उसने रावण को बालि के बारे में बताया। बालि का नाम सुनते ही रावण थोड़ा असहज हो गया था।

अंगद ने रावण से कहा कि वह श्रीराम से युद्ध न करें। सीता माता को सकुशल लौटा दे, इसी में सभी का कल्याण है। लेकिन, रावण अपने अहंकार में था। उसने अंगद की बातें नहीं मानी। तब अंगद ने रावण से कहा था कि जिन लोगों में 14 बुराइयां होती हैं, वे जीते जी मृत समान होते हैं।

इसे भी पढ़ें : पूर्व कप्‍तान Kapil Dev को आया हार्ट अटैक, दिल्‍ली में हुई एंजियोप्‍लास्‍टी

- Advertisement -
spot_img
spot_img
spot_img

Published On :

spot_img

Recent articles

spot_img

Don't Miss

spot_img