spot_img
Wednesday, December 7, 2022
spot_img
spot_img
Wednesday, December 7, 2022
spot_img

Related articles

spot_img
spot_img

कोरोना मरीजों को समर्पित है इस वर्ष का WorldFoodDay

spot_img
spot_img
- Advertisement -

कोहराम लाइव डेस्क : WorldFoodDay  सोशल मीडिया और Twitter पर ट्रेंड कर रहा है। सभी यूजर एक-दूसरे को संदेश दे रहे हैं और खान-पान संबंधी टिप्स भी शेयर कर रहे हैं। WorldFoodDay हर वर्ष 16 अक्टूबर को दुनिया भर में मनाया जाता है।

भुखमरी के खिलाफ बुलंद होती है आवाज

- Advertisement -

यह दिवस भूख से पीड़ित लोगों के लिए जागरुकता फैलाने के उद्देश्य से मनाया जाता है। इस एक दिन स्थानीय स्तर पर हर किसी से भुखमरी के खिलाफ कदम उठाने की अपील की जाती है। वर्ल्ड फूड डे पर गैर सरकारी संगठनों, मीडिया, आम जनता और सरकार द्वारा कई तरह के कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं, ताकि लोगों को भूख पीड़ितों के बारे में जागरूक किया जा सके।

इसे भी पढ़ें : प्रेम प्रसंग में पत्नी ने कराया पति का Murder, प्रेमी और पत्नी गिरफ्तार

जानिए क्या है इस वर्ष का थीम

इस वर्ष WorldFoodDay की थीम है, ‘Grow, Nourish, Sustain, Together, Our actions are our future’ 16 अक्टूबर, 1945 के दिन संयुक्त राष्ट्र के खाद्य और कृषि संगठन  (FAO) की स्थापना की गई थी। कृषि संगठन के सदस्य वाले देशों ने नवंबर 1979 को हुए 20वें महासम्मेलन में वर्ल्ड फूड डे की स्थापना की थी। इस संगठन के सदस्य देशों ने 16 अक्टूबर 1981 को वर्ल्ड फूड डे मनाने की शुरुआत की।

यह दिवस इस साल कोरोना पीड़ितों को समर्पित

इस साल कोविड-19 महामारी के प्रभाव ने दुनिया भर के देशों को प्रभावित किया है। वर्ल्ड फूड डे ने इस साल वैश्विक एकजुटता के लिए सबसे कमजोर लोगों को ठीक करने का आह्वान किया गया है। साथ ही खाद्य प्रणालियों को उनके लिए अधिक टिकाऊ बनाने में मदद करने का आह्वान किया है, ताकि लोगों को ज्यादा से ज्यादा ऐसे फूड्स के बारे में जानकारी दी जा सके, जो उनके स्वास्थ्य के लिए लाभदायक हों।

इसे भी पढ़ें : Fraud : नप अध्यक्ष के पति ने छह लाख कर्ज लेकर नहीं लौटाया, गए जेल

भारत में कैसे मनाते हैं यह दिवस

भारत में यह दिन कृषि के महत्व को दर्शाता है और इस तथ्य पर बल देता है कि भारतीयों द्वारा उत्पादित और उपभोग किए जाने वाला भोजन सुरक्षित और स्वस्थ है। विश्व खाद्य दिवस भारत में बड़े उत्साह के साथ मनाया जाता है। भारत में लोग इस अवसर को रंगोली बनाकर और सड़क पर नुक्कड़-नाटक करके लोगों को फूड के बारे में जागरुक करते हैं और इस दिन को मनाते हैं।

- Advertisement -
spot_img
spot_img
spot_img

Published On :

spot_img
spot_img

Recent articles

spot_img

Don't Miss

spot_img