spot_img
Saturday, January 28, 2023
spot_img
spot_img
28 January 2023
spot_img

Related articles

spot_img
spot_img

जादूगरनी तबस्सुम छोड़ गईं अपनी यादें और बातें… देखें वीडियो

spot_img
spot_img
- Advertisement -

RANCHI (BHAVNA/ARTI) : अपने तौर, तरीके और अंदाज से हर दिल अजीज तबस्सुम गोविल दुनिया से अलविदा हो गईं। भारतीय टेलीविजन के पहले टॉक शो ‘फूल खिले हैं गुलशन गुलशन’ को होस्ट कर छा गई तबस्सुम को चाहने वाले उन्हें कभी भूल नहीं पायेंगे। आवाज की दुनिया की जादूगरनी हर किसी पर जादू कर गई। लोग उनके टॉक शो का बेशर्बी से इंतेजार करते थे। ‘फूल खिले हैं गुलशन गुलशन’ टॉक शो 21 सालों तक यानी 1972 से 1993 तक चला। इस शो पर ढेरों सेलेब्स के इंटरव्यू लिये गए थे। यह शो दर्शकों के बीच बेहद पॉपुलर हुआ और तबस्सुम ढेर सारा लोगों का प्यार बटोर गई। टीवी की दुनिया के बाहर सिने जगत के रूपहले पर्दे पर भी वो खूब तालियां बटोरती थी। बहुत छोटी सी उम्र में फिल्मी दुनिया में कदम रखने वाली तबस्सुम एक वक्त बेबी तबस्सुम के नाम से फेमस हो गई थी। पहली बार स्क्रीन पर आई थीं तब वो महज तीन साल की थीं। सन 1947 में रिलीज हुई फिल्म ‘मेरा सुहाग’ में उन्होंने बाल कलाकार की भूमिका निभाई थी। तबस्सुम ने फिल्म ‘दीदार’ में नरगिस के बचपन का किरदार निभाकर दर्शकों के दिलों को जीत लिया था। इसके बाद वह कई फिल्मों में नजर आईं। उनकी फिल्में धर्मपुत्र, फिर वही दिल लाया हूं, गंवार, बचपन, जॉनी मेरा नाम, गैम्ब्लर आईं।

- Advertisement -

अमृता सिंह की फेमस फिल्म ‘चमेली की शादी’ में भी उन्हें देखा गया था। 2006 में उन्होंने टीवी पर वापसी की थी। उन्होंने सीरियल ‘प्यार के दो नाम: एक राधा, एक श्याम’ में काम किया था। वहीं उन्हें 2009 में शो ‘लेडीज स्पेशल’ को जज करते हुए भी देखा गया। उनका जन्म 1944 में हुआ था। उनके पिता का नाम आयोध्यानाथ सचदेव था, जो एक स्वतंत्रता सैनानी थे। उनकी मां का नाम असगरी बेगम था। वो भी स्वतंत्रता सैनानी थीं। वो एक पत्रकार और लेखिका भी थीं। तबस्सुम के पिता ने उनकी मां के धर्म को ध्यान में रखते हुए उन्हें तबस्सुम नाम दिया था। वहीं उनकी मां ने उनके पिता के धर्म को ध्यान में रखते हुए उनका नाम किरण बाला रखा था।

दिग्गज अदाकारा तबस्सुम गोविल बीते कल यानि 18 नवम्बर को दुनिया से अलविदा हो गई। उन्होंने मुंबई में आखिरी सांस ली। वो अपनी बातें और यादें छोड़ गई। उनकी याद में सांताक्रुज के आर्या समाज में 21 नवम्बर को प्रार्थना सभा होगी। उनके बेटे होशांग गोविल ने मीडिया को बताया कि 18 नवम्बर की रात 8 बजकर 40 मिनट पर उनकी मां चल बसी। उन्हें कार्डियक अरेस्ट हुआ था। वह बिल्कुल ठीक थी। दस दिन पहले ही वह शूटिंग भी की थी। सब अचानक हो गया। लगभग 78 साल की तबस्सुम को गैस्ट्रिक प्रॉब्लम थी। इस वजह से उन्हें अस्पताल में भर्ती भी कराया गया था। उन्हें डिस्चार्ज भी कर दिया गया था। बीते शुक्रवार को अचानक उनकी तबीयत बिगड़ गई। उन्हें कार्डियक अरेस्ट आये थे। उनकी इच्छा थी कि उनके अंतिम संस्कार के बाद ही यह खबर लोगों को दी जाये। इसी वजह से एक दिन बाद यह खबर दी गई। टीवी की दुनिया की बेताज अदाकारा रही तबस्सुम की शादी रामायण में राम की भूमिका निभाने वाले अरुण गोविल के भाई विजय गोविल से हुई थी। दोनों का एक बेटा होशांग है। होशांग एक एक्टर हैं। उन्हें फिल्म ‘तुम पर हम कुर्बान’ में देखा गया था। जिसे तबस्सुम ने ही प्रोड्यूस और डायरेक्ट किया था। इसके अलावा उन्होंने फिल्म ‘करतूत’ और ‘अजीब दास्तां है ये’ सीरियल में भी काम किया। 2009 में होशांग की बेटी और तबस्सुम की पोती खुशी ने फिल्म ‘हम फिर मिले ना मिले’ में अदा कर फिल्मी दुनिया में इंट्री की।

इसे भी पढ़ें : अब पुलिस ने कोल्हान में दी दस्तक

इसे भी पढ़ें : हॉस्टल में सु*साइड…

इसे भी पढ़ें : रेलवे स्टेशन पर हो गया बड़ा हादसा… देखें

इसे भी पढ़ें : केंद्रीय कर्मचारियों के लिए बड़ी खबर, खत्म होगी पेंशन और ग्रेच्‍युटी !

इसे भी पढ़ें : मनिका ने Asian Cup Table Tennis के सेमीफाइनल में बनाई जगह, रचा इतिहास

इसे भी पढ़ें :छलिया प्यार… देखें वीडियो

इसे भी पढ़ें :एक ही रात में यह क्या हो गया… देखें वीडियो

- Advertisement -
spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img
spot_img

Published On :

spot_img

Recent articles

spot_img

Don't Miss

spot_img