29 C
Ranchi
Saturday, December 4, 2021

Latest Posts

राजधानी में गैंगरेप, जिसे मदद के लिए पुकारा, उसने भी रौंदा, देखें वीडियो…

Ranchi: करीब 5 महीने पहले मौसी की शादी में बादल (बदला हुआ नाम) से मुलाकात हुई थी। मुलाकात दोस्‍ती में बदल गई। कभी-कभी फोन पर बातें भी होती थी और चोरी-चुपके मिलना-जुलना भी होता था। 26 अगस्‍त को दिन में बादल का फोन आया वह उसे बाहर गांव में बुलाया। वह बादल पर खूब भरोसा करती थी। खुद को रोक नहीं पाई और उसके बुलावे पर घर से निकल गई। बादल उसे पास में ही टांगरबसली जंगल में ले गया। यह जंगल रांची के मांडर थाना क्षेत्र में है। इल्‍जाम है कि जंगल में उसके साथ गैंगरेप किया गया। कुल 4 लोग थे। नाबालिग पीड़िता रोती-चीखती चिल्‍लाती रही, पर किसी को तरस नहीं आया। इसमें से दो बदमाश पेट्रोल भराने चले गये। इसी दरम्‍यान पीड़िता के हाथ फोन लगा। उसने गांव के ही संतोष भईया (बदला हुआ नाम) को फोन कर सबकुछ बताया। संतोष भईया आया और उसे साथ में ले गया। नाबालिग को भरोसा था कि संतोष भईया से बेहतर हिफाजत उसकी कोई नहीं कर सकता।

एक सहारा के तौर पर उसे वह देखी। पर संतोष भी नाबालिग को नहीं बख्‍सा। अपने 3 दोस्‍तों के साथ उसके साथ सामूहिक दुष्‍कर्म किया। इल्‍जाम है कि संतोष संदेही गुनहगार बादल का दोस्‍त है। 28 अगस्‍त को यह मामला रांची के रूरल एसपी मो. नौशाद आलम तक पहुंचा। उनके निर्देश पर मांडर के थानेदार जंगबहादुर सिंह ने फौरी कार्रवाई करते हुये 4 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। मुख्‍य गुनाहगारों सहित बाकी की तलाश की जा रही है। पकड़े गये लोग भी नाबालिग है। सुनें क्‍या बोलें रूरल एसपी मो. नौशाद आलम, नाबालिग और दुखियारी पीड़िता और उसके पिता…
कोहराम लाइव के लिए रूपम की रिपोर्ट

Read more:…और थाने में ही रेत दिया पत्‍नी का गला

Read more:ससुराल में हुआ अपमान, युवक ने उठाया ये खौफनाक कदम…

Read more:डेढ़ माह पहले हुआ था अंतिम संस्कार, अचानक आकर बोली मैं जिंदा हूं…

Read more:घर से भागी रानी बनी दारोगा दीपक की दुल्हन, देखें वीडियो

Read more:चंद मिनटों में बैंक खाता खाली करने में माहिर लोगों को देखें…

Read more:मालगाड़ी से कटकर युवक की मौत

Read more:कभी पकड़ने तक की कोशिश नहीं हुई, सिर्फ दिखावे के लिए कुर्की

Read more:रच दिया इतिहास…आज एक करोड़ से अधिक लगीं वैक्सीन

Latest Posts

Don't Miss

Photo News