February 28, 2024
Wednesday, February 28, 2024
More
    19 C
    Patna
    16.1 C
    Ranchi
    15 C
    Lucknow
    spot_img

    देखिये रांची में देह त्‍यागने वाले औघड़ बाबा…

    spot_img

    Published On :

    • पहली बरखी पर जुटान हो रहा है प्रख्यात औघड़ बाबा का
    • सीएम योगी आदित्यनाथ के रांची आने की भी संभावना

    रांची : देश भर के प्रख्यात औघड़ बाबा का जुटान होगा रांची में। मौका है करीब एक साल पहले शरीर त्याग कर समाधि ले लेने वाले कैलाश वासी औघड़ पीर योगी श्री 108 बीरनाथ जी महाराज की बरखी पर उन्हें याद करना। चंद्र अघोर आश्रम, सुकुरहुट्टू, कांके के पुजारी चंद्र भूषण मिश्र के आमंत्रण पर यहां जुटान हो रहा है ख्याति और सिद्ध नाथ संप्रदाय के औघड़ों का। पुजारी श्री मिश्र ने उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ से भी आने का आग्रह किया है। योगी इस संप्रदाय से जुड़े हुए हैं। सीएम योगी हैं महंत पीर, मठाधीश्वर, गोरखनाथ मंदिर, गोरखपुर के। प्रबल संभावना है कि सीएम योगी इस कार्यक्रम में शरीक हो सकते हैं। कार्यक्रम 6-8 जनवरी, 2021 तक चलेगा। सारा कार्यक्रम चंद्र अघोर आश्रम (सेतु प्रिंटर्स के नजदीक, सुकुरहुट्टू, कांके) में होगा। आश्रम के बगल में श्मशान काली मंदिर में निवास करने एवं आश्रम में ही समाधि लेने वाले औघड़ को याद करने का यह पहला वार्षिक मौका है। समाधि लेने वाले औघड़ बाबा की शक्ति असीमित थी। उन्हें जानने वाले बताते हैं कि एक दफा वह कच्चा चबा गये थे एक मुर्गा को। बाद में यही मुर्गा एक कुत्ता के मुंह से जिंदा निकल भागा। सबसे रोचक एक बार अनजाने में पुलिस उन्हें पकड़ ले गयी थाना और डाल दिया हाजत में। पुलिस जब भी पीछे पलटती, तो उन्हें सामने से आते यही औघड़ बाबा दिखायी देते। चकरा गया पुलिस का दिमाग, फिर छोड़ दिया गया था औघड़ बाबा को। ऐसी ही कई कथाएं हैं इन औघड़ बाबा के बारे में।

    इसे भी पढ़ें : ओरमांझी में मिली सिर कटी लाश को लेकर किशोरगंज में बवाल, सीएम के काफिले पर भी हमले का प्रयास

    ख्यात महंत पीर योगी बालकनाथ जी महाराज (हरियाणा), महंत योगी कृष्णनाथ जी महाराज, महंत योगी सूरजनाथ जी महाराज (हिमाचल प्रदेश), राजगुरु किशननाथ जी महाराज (हिमाचल प्रदेश), राजयोगी निर्मलनाथ जी महाराज (मंगलोर), महंत पीर योगी शेरनाथ जी बाप (गुजरात), महंत योगी डॉ बिलासनाथ जी महाराज (नासिक), महामंत्री योगी चैताई नाथ जी महाराज (हरिद्वार) के भी कार्यक्रम में शरीक होने का आग्रह किया गया है। इस पूरे कार्यक्रम के मुख्य अतिथि होंगे केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा एवं पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास। विशिष्ट अतिथि की हैसियत से बिहार के मंत्री डॉ अशोक चौधरी, भाजपा के दीपक प्रसाद, जहानाबाद के सांसद चंदेश्वर प्रसाद चंद्रवंशी, रांची के विधायक सीपी सिंह, सांसद संजय सेठ, पूर्व मंत्री रणधीर कुमार सिंह, कांके विधायक समरी लाल, बिहार के पूर्व मंत्री नीरज कुमार, पूर्व विधान पार्षद बिनोद कुमार सिंह मौजूद रहेंगे। कार्यक्रम के मुख्य अध्यक्ष होंगे श्रीश्री 108 योगेश्वर योगिराज, पीर टिल्लाधीश पारसनाथ जी महाराज।

    तीन दिवसीय कार्यक्रम में 6 जनवरी को कलश यात्रा, पंचांग पूजन, मंडप प्रवेश, देवताओं का वेदी पूजन, जलाधिवास, भजन एवं संत वाणी का आयोजन होगा। दिनांक 7 जनवरी को वेदी पूजन, अन्नाधिवास, फलाधिवास, पुष्पाधिवास, स्नपन एवं शय्याधिवास के साथ संख्या ढाल क आयोजन होगा। दिनांक 8 जनवरी को दैनिक पूजन, अघोर न्यास, मूर्ति प्राण प्रतिष्ठा (बाबा बीरनाथ जी अघोरी), हवन एवं आरती के साथ चादर रस्म निभायी जायेगी। मध्याह्न 1 बजे से भंडारा एवं संत विदाई का कार्यक्रम रखा गया है।

     इसे भी पढ़ें : झारखंड में मैट्रिक-इंटर की परीक्षा की तिथि घोषित, जानिए कब से कबतक होगी परीक्षा

    - Advertisement -
    spot_img
    spot_img
    spot_img

    Related articles

    Weekly Horoscope ( साप्ताहिक राशिफल )