प्रतिशोध का नतीजा है भाई-बहन का Bru*tal Mu*rder… देखें वीडियो

Published:

Ranchi (Pawan Thakur) : पंडरा के जनक नगर मोहल्ले में मारे गये भाई-बहन के पीछे प्रतिशोध का कारण उभर कर सामने आया है। डबल मर्डर करने के इल्जाम में धराया रोहन दागी किस्म का युवक है। कुछ माह पहले ही वह जेल से बाहर आया था। सूत्रों के अनुसार रोहन और श्वेता में अफेयर था। जब रोहन की माली हालत बिगड़ी थी, तब श्वेता ने उसे सोने के दो चेन दिये थे। बाद में जब श्वेता अपना चेन वापस मांगने लगी तो दोनों में झगड़ा हो गया। तब मामला पंडरा थाना तक पहुंचा था। उस समय पिंटू कुमार थानेदार थे। तब एक चेन श्वेता को वापस किया गया था। उस वक्त रोहन को काफी अपमानित भी होना पड़ा था। उसी समय से रोहन बदला लेने की आग में धधक रहा था। श्वेता की मां ने भी पुलिस को झगड़े की बात बताई है।

श्वेता के घर के आसापास रहने वाले कुछ लोगों ने बताया कि आज सुबह भोर में 4 बजे चंदा के पड़ोसी की नजर उसके घर के बाहर खून पर पड़ी। पड़ोसी महिला भागी-भागी अपने घर के अंदर गई। पति जितेंद्र पांडेय को जगाया और बोली… चंदा के घर कुछ हुआ है। जल्दी चलिये, गेट के बाहर लाल-लाल कुछ फैला हुआ है। जितेंद्र अपनी पत्नी को बोले… शनिवार है। चंदा हर शनिवार को भोर में मंदिर जाती है। पैर में आलता-उलता लगाई होगी। वही गिरा हुआ होगा। पत्नी के जिद करने पर जितेंद्र उसके साथ चंदा के घर गये। गौर से देखा तो गेट के बाहर खून नजर आया। खून घर के अंदर से बहकर आ रहा था। जितेंद्र ने चंदा को आवाज लगाई। अंदर से आवाज आई… हां चचा। चंदा की आवाज बिल्कुल दबी हुई थी। जबकि वह बोल्ड लेडी है। जितेंद्र को कुछ अनहोनी का शक हुआ।

उन्होंने आसपास के अन्य पड़ोसियों को बुलाया। साथ ही चंदा के पिता को भी खबर दी गई। चंदा के पिता का घर पास में ही है। मिली सूचना पर पिता और भाई वहां पहुंचे। दरवाजे की कुंडी खोलकर घर के अंदर घुसे। जो कुछ देखा, उनके होश उड़ गये। एक तरफ खून से लथपथ नाती और नतीनी की लाश पड़ हुई थी। वहीं दूसरी तरफ बेटी चंदा लहूलुहान थी। सभी पर छुरा से ताबड़तोड़ वार किया गया था। भाई-बहन की बेरहमी से हत्या की फैली खबर के बाद इलाके में सनसनी फैल गई। सूचना पुलिस तक पहुंची। मौके पर सिटी एसपी अंशुमन कुमार, कोतवाली डीएसपी प्रकाश सोय और पंडरा पुलिस पहुंची। एफएसएल की टीम को भी बुलाया गाया। भाई-बहन के शव को कब्जे में कर पोस्टमार्टम के लिए रिम्स भेज दिया। वहीं जख्मी चंदा का रिम्स में ही इलाज चल रहा है।

जख्मी चंदा ने पुलिस को दिये अपने बयान में बताया कि रोहन नाम का एक लड़का उसकी बेटी श्वेता के पीछे पड़ा हुआ था। कुछ दिन पहले भी उसके साथ झगड़ा हुआ था। मामला थाना तक भी पहुंचा, पर उस वक्त कॉम्प्रोमाइज कर लिया गया था। उसने ही अपने दोस्तों के साथ इस दुस्साहसिक वारदात को अंजाम दिया है। इसके बाद छत के रास्ते सभी भाग निकले।

इधर, पुलिस ने हत्याकांड के मुख्य आरोपी रोहन को धर दबोचा है। मोबाइल लोकेशन को ट्रैक कर पुलिस ने रोहन को बैंक कॉलोनी के पास से गिरफ्तार किया। रोहन पंडरा थाना इलाके में ही रहता है। चंदा के पति संजीव कुमार सिंह विदेश में रहते हैं। चंदा अपनी बेटी श्वेता और बेटे प्रवीण के साथ पंडरा थाना इलाके के जनक नगर में किराए के मकान में रहती है। यह सनसनीखेज वारदात रांची के पंडरा थाना इलाके के जनक नगर की है। सुनें क्या बोले सिटी एसपी अशुमन कुमार और चंदा के पड़ोसी…

इसे भी पढ़ें : रांची के होटल खालसा में मचा कोहराम… देखें क्यों

इसे भी पढ़ें : एक लेडीज टेलर से मिला क्लू, खुल गया म*र्डर के पीछे छुपा राज….

Related articles

Recent articles

Follow us

Don't Miss