spot_img
Saturday, January 28, 2023
spot_img
spot_img
28 January 2023
spot_img

Related articles

spot_img
spot_img

7 लाख मोबाइल कनेक्शन को किया गया बंद, जानें क्यों…

spot_img
spot_img
- Advertisement -

Kohramlive : राजस्थान में ऑनलाइन ठगी के बढ़ते मामलों को देखते हुए 7 लाख मोबाइल कनेक्शन बंद कर दिए गए हैं। इनमें 6.28 लाख कनेक्शन लंबे समय से यूज में नहीं थे। ऑनलाइन ठगी को लेकर पुलिस और दूरसंचार विभाग की टीम लगातार कार्यवाही कर रही थी। इसके बावजूद मामले कम नहीं हो रहे थे। आखिर सभी नंबर बंद कर दिए गए हैं। ये सभी नंबर फर्जी आईडी के जरिए उठाए गए थे।

इन क्षेत्रों के अधिक मोबाइल कनेक्शन किए गए हैं बंद

- Advertisement -

टेलीकॉम विभाग के अधिकारियों के मुताबिक मेवात क्षेत्र में पहाड़ी, जुहररा, नगर, सिकरी, खो, कैथवाड़ा, गोपालगढ़, कामां थाना क्षेत्र में बड़ी संख्या में मोबाइल कनेक्शन बंद किए गए हैं। जिन हैंडसेट में मोबाइल सिम उपयोग किया गया, उनमें से 74131 को भी ब्लॉक कर दिया है। इनके आईईएमआई नंबर बंद कर दिए हैं।

लोगों की सुविधा के लिए नया सिस्टम शुरू

टेलीकॉम विभाग ने लोगों की सुविधा के लिए नया सिस्टम शुरू किया है। इसके तहत लोगों की आईडी से फर्जी तरीके से सिम अलॉर्ट करवाने पर लोग पता कर सकेंगे कि उनके नाम से कितनी सिम चल रही है। इसके लिए दूरसंचार विभाग ने एक पोर्टल तैयार किया है, जिसका नाम टेफकोप (टेलीकॉम एनालेटिक्स फॉर फ्राड मैनेजमेंट एण्ड कंज्यूमर प्रोटेक्शन) है। इसी पोर्टल के माध्यम से उपभोक्ता फर्जी तरीके से संचालित सिम कनेक्शन को बंद करा सकता है। पोर्टल पर मौजूद विकल्प पर इसकी जानकारी देनी होगी। इसके बाद डीओटी यह जानकारी संबंधित मोबाइल ऑपरेटर को भेजेगा। यहां से संबंधित उपभोक्ता से मामले की तस्दीक की जाएगी और सही पाए जाने पर कनेक्शन बंद कर दिया जाएगा।

इसे भी पढ़ें :PLFI सुप्रीमो दिनेश गोप से कॉन्टैक्ट करने वाला मोबाइल मिला… देखें

इसे भी पढ़ें :अधिकारी पूरी ईमानदारी से काम करें ताकि राज्य का संपूर्ण विकास हो सके : CM

इसे भी पढ़ें :तलाकशुदा माशूका को मारा इतना छुरा कि… देखें

इसे भी पढ़ें :Kolkata Raj Bhavan Fire: राजभवन में लगी आग…

इसे भी पढ़ें :मुठभेड़ में चली ताबड़तोड़ गोलियां

 

- Advertisement -
spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img
spot_img

Published On :

spot_img

Recent articles

spot_img

Don't Miss

spot_img