spot_img
Thursday, August 18, 2022
spot_img
Thursday, August 18, 2022
spot_img
spot_img

Related articles

Lesson : परेशानियों से बचाती है बड़े-बुजुर्गों की सलाह

- Advertisement -

कोहराम लाइव डेस्क : Lesson : परेशानियों से बचाती है बड़े-बुजुर्गों की सलाह। जीवन में अनुभव का बड़ा स्थान होता है। नौकरी हो या आम जीवन अनुभव का महत्व है। अनुभव समय सिखाता है। इसलिए हमें अपने बड़ों की बात जरूर माननी चाहिए, क्योंकि उनके पास जीवन का लंबा अनुभव होता है। बड़े-बुजुर्गों की सलाह अक्सर हमें परेशानियों से बचाती है। इसलिए हमें समय-समय पर घर के बुजुर्गों से बात करनी चाहिए और समस्या आने पर उनसे सलाह लेनी चाहिए।

इसे एक कहानी से समझें

एक राज्य में युवा राजा था। उसे लगता था कि उसके राज्य में बूढ़ों की संख्या ज्यादा हो गई है, वे काम भी नहीं करते। इसलिए वे राज्य के लिए बोझ बने हुए हैं। राजा ने आदेश दिया कि उनके राज्य के सभी बूढ़े बाहर चले जाएं, नहीं तो उनको मृत्यु दंड दे दिया जाएगा। इसके बाद राज्य के सभी बूढ़े वहां से चले गए। सिर्फ एक गरीब लड़का पैसे के अभाव में अपने बुजुर्ग पिता को राज्य से बाहर नहीं भेजा और घर में ही छुपा कर रखा।

- Advertisement -

इसे भी पढ़ें : सोशल मीडिया पर Trend कर रहा है बॉयकॉट बॉलीवुड इंडस्ट्री

राज्य में पड़ गया अकाल

इसके बाद राज्य में अकाल पड़ गया। सारा अन्न खत्म हो गया। राजा को समझ नहीं आ रहा था कि इससे कैसे निबटा जाए। राज्य में कोई बुजुर्ग नहीं था, जो इसको लेकर सलाह दे पाता। उस गरीब लड़के ने अपने बुजुर्ग पिता से अकाल से निबटने के लिए सलाह मांगी। तब पिता ने सलाह दी कि पास ही में हिमालय पर्वत है और थोड़े ही समय के बाद गरमी शुरू हो जाएगी। फिर उस पर जमी बर्फ पिघलने लगेगी। ऐसा करो कि गांव की सड़क के दोनों ओर हल चला दो। लड़के इस उपाय को लोगों के सामने रखी, पर किसी ने उसकी बात नहीं मानी। फिर वह अकेला लड़के ने ही सड़क की दोनों ओर हल चला दिया। इसके बाद जैसे ही हिमालय से बर्फ पिघली, उसका पानी राज्य के रास्ते पर आ गए। धीरे-धीरे मार्ग के दोनों और अनाज के पौधे उग आए।

राजा को गलती का अहसास हुआ

जब ये बात राजा को मालूम हुई तो उस गरीब लड़के को दरबार में बुलवाया गया। राजा ने लड़के से पूछा कि ये अनाज उगाने का ये उपाय तुम्हें किसने बताया? तब उसने सारी सच्चाई बताई। फिर राजा ने उसके पिता को बुलवाया। बूढ़े व्यक्ति ने राजा से कहा कि महाराज हमारे राज्य से लोग अपने खेतों से अनाज अपने घर ले जाते थे और कुछ लोग दूसरे राज्य अनाज बेचने जाते थे तो अनाज के कुछ दाने रास्ते के दोनों और गिर जाते थे।

जब मेरे बेटे ने रास्ते की दोनों तरफ हल चलाया और हिमालय का पिघला हुआ पानी वहां पहुंचा तो वो दाने अंकुरित हो गए और अनाज उग गया। यह सुनकर युवा राजा को अपनी गलती का अहसास हुआ। उसे एक Lesson मिला। उसे लगा कि यह उपाय तो कोई अनुभवी ही बता सकते थे। उन्होंने आदेश दिया कि सभी बुजुर्ग लोगों को वापस राज्य में बुलाया जाए।

इसे भी पढ़ें : सोशल मीडिया पर Trend कर रहा है बॉयकॉट बॉलीवुड इंडस्ट्री

- Advertisement -
spot_img
spot_img
spot_img
spot_img

Published On :

Recent articles

Don't Miss

spot_img