spot_img
Wednesday, October 5, 2022
spot_img
spot_img
Wednesday, October 5, 2022
spot_img
spot_img

Related articles

spot_img
spot_img

होप इन साइट थीम है इस World Sight Day का

spot_img
- Advertisement -

कोहराम लाइव डेस्क : हर वर्ष अक्टूबर के दूसरे गुरुवार को World Sight Day मनाया जाता है। इसका उद्देश्य दुनिया भर के लोगों द्वारा दृष्टि दोष और अंधेपन पर ध्यान केंद्रित करना है। इस साल वर्ल्ड साइट डे 2020 की थीम ‘होप इन साइट’ रखी गई है। डब्ल्यूएचओ के अनुसार दुनियाभर में 1 बिलियन लोग दृष्टि दोष से पीड़ित हैं. कम दृष्टि या अंधापन जीवन के सभी पहलुओं पर प्रमुख और लंबे समय तक प्रभाव छोड़ सकता है, जिसमें दैनिक व्यक्तिगत गतिविधियां शामिल हैं।

- Advertisement -

आंखों की रोशनी कम होना कई कारणों से हो सकते हैं, जिसमें डायबिटीज और ट्रेकोमा, आंखों में आघात या अपवर्तक त्रुटि, मोतियाबिंद, अध: पतन जैसी बीमारियां शामिल हैं।  कमजोर आंखों की समस्या से अधिकतर लोग ग्रसित हो रहे हैं और यह समस्या दुनिया में दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। आंखों की रोशनी कमजोर होने के कारण कई हैं।

इसे भी देखें : IndianAirforceDay पर राफेल ने भरा जोश

हमारी लाइफस्टाइल भी नजरें कमजोर कर रहीं

हमारी लाइफस्टाइल और डाइट की वजह से आंखों का कमजोर होना लाजमी है. यह समस्या अब काफी आम बात हो गई है जिसकी वजह ज्यादा फोन का इस्तेमाल, देर रात को मोबाइल में लगे रहना, कंप्यूटर और लैपटॉप पर घंटों समय बिताना, बिना ब्रेक के स्क्रीन को देखना आदि हैं। आए दिन लोग फोन पर घंटों तक लगे रहते है, जिसकी वजह से आंखें कमजोर हो जाती हैं। कई बार यह हमारे खानपान से भी हो सकता है।

क्या करें बेहतर दृष्टि के लिए

आंखों की सेहत के लिए हर रोज सुबह आंखों पर पानी के छीटें जरूर मारें। ऐसा करने से आंखों को ठंडक मिलती है और आंखों से गंदगी भी बाहर निकल सकती है। आंखों में डिहाइड्रेशन समस्या से भी राहत मिल सकती है। आंखों का सूखापन भी दूर हो सकता है। अगर रात और दिन स्क्रीन ज्यादा स्क्रीन का इस्तेमाल करते हैं तो आंखों को आराम देना जरूरी है। इसलिए काम के दौरान बीच-बीच में अपनी आंखों को 2 से 3 मिनट के लिए बंद कर लें। ऐसा करने आंखों का तनाव भी कम हो सकता है। इसके अलावा आप अपनी दोनों हथेलियों को आपस में रगड़ें और जब हथेलियां गर्म हो जाएं तो उन्‍हे हल्‍के हाथों से आंखों पर रख लें। इससे भी आंखों को आराम मिल सकता है।

आंखों की नियमित जांच जरूरी

नियमित रूप से आंखों की जांच कराना जरूरी है।  हेल्दी खान-पान से भी फर्क पड़ता है। हफ्ते में कम से कम तीन बार मछली का सेवन करें। इसके साथ ही गाजर, मूली, टमाटर, चुकंदर, अनार को शामिल करें। पालक का सेवन करें यह पोषक तत्‍वों से भरपूर होती है।#WorldSightDay

इसे भी देखें : ‘जब तक दवाई नहीं तब तक कोई ढिलाई नहीं’, Governor-CM ने शेयर की वीडियो

- Advertisement -
spot_img
spot_img
spot_img
spot_img

Published On :

spot_img
spot_img

Recent articles

spot_img

Don't Miss

spot_img