spot_img
Monday, November 28, 2022
spot_img
spot_img
Monday, November 28, 2022
spot_img
spot_img

Related articles

spot_img
spot_img

powercut से थमी मुंबई की रफ्तार, जांच के आदेश

spot_img
spot_img
- Advertisement -

मुंबई : powercut और Mumbai सोशल मीडिया पर ट्रेंडिंग है। इसका कारण है मुंबई में बिजली का संकट। पॉवर ग्रिड फेल होने के कारण 12 अक्टूबर को लगभग ढाई घंटे तक बिजली संकट से जूझती रही आर्थिक राजधानी मुंबई। हालांकि ढाई घंटे बाद बिजली आपूर्ति बहाल कर दी गई। मामले को गंभीरता से लेते हुए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने शाम चार बजे उच्च स्तरीय जांच के आदेश दिए हैं। ऊर्जा मंत्री नितिन राऊत पहले ही इस मामले में जांच के आदेश दे चुके हैं।

उच्च स्तरीय जांच कराई जाएगी

- Advertisement -

महाराष्ट्र सरकार के ऊर्जा मंत्री नितिन राउत ने बताया कि 400 केवी कलवा-पड़गा सर्किट-01 में काम हो रहा था इसी दौरान पूरा लोड सर्किट-2 पर आ गया जिसके कारण वो फेल हो गया। सर्किट-2 फेल होने के कारण मुंबई और ठाणे के ज्यादातर इलाकों में लाइट चली गई। उन्होंने कहा कि मामले की उच्च स्तरीय जांच कराई जाएगी। विद्युत आपूर्ति बहाल कर दी गई है.

आवश्यक सेवाएं रहीं ठप

सोमवार सुबह 10.15 मिनट पर अचानक से मुंबई में लोकल ट्रेन से लेकर ट्रैफिक सिग्नल तक सबकुछ रुक गया। साउथ मुंबई से लेकर विरार तक बिजली बंद हो गई। एक लाइन कहें तो मुंबई में कभी ना जाने वाली लाइट चली गई. और ऐसा सिर्फ मुंबई में ही नहीं बल्कि पूरे महानगरीय क्षेत्र (MMR) जिसमें ठाणे और नवी मुंबई में शामिल हैं, में लाइट चली गई।

पानी की सप्लाई पर भी असर

powercut के कारण मुंबई से सटे ठाणे में सारे पंपिग स्टेशन बंद हो गए. जिस कारण पानी की सप्लाई नहीं हो सकी। बिजली आने के बाद ही पानी की सप्लाई हो सकी. मुंबई में बिजली जाना कितना महत्वपूर्ण है इसका अंदाजा आप इससे लगा सकते है कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने ऊर्जा मंत्री नितिन राउत के साथ पॉवर कट होने के मामले को लेकर बात की। साथ ही ये निर्देश दिया कि मुंबई और महानगर क्षेत्रों में बिजली आपूर्ति बहाल करने के लिए तत्काल प्रयास किए जाएं।

- Advertisement -
spot_img
spot_img
spot_img

Published On :

spot_img
spot_img

Recent articles

spot_img

Don't Miss

spot_img